ghar-mein-ek-navjat-shishu-ke-hote-hue-aapke-shower-lene-ke-10-pehlu

जब आपके घर में एक नवजात शिशु है तो शॉवर लेना  आपको हमेशा चिंता देता है। आप कुछ नहीं कर सकती सिवाए यह सोचने  के कि आपके शावर लेने के दौरान आपका बच्चा बिस्तर पर सुरक्षित है या नहीं, और शायद आप इस वज़ह से ठीक से शावर भी न लें पायें ।

यहाँ स्नान करने के १०  पहलू हैं जिनसे आप हर रोज़ गुजरतीं हैं  !

चरण 1

आप अपने नवजात शिशु को सोने के लिए सुरक्षित जगह रखकर अनुमान लगा सकतीं है कि अब आप शावर ले लें |

चरण 2

आप अचानक महसूस करती हैं कि आपने अपने बच्चे को उस स्थिति में नहीं रखा है जो सुरक्षित है और इसलिए उसे वापस पालना या एक सुरक्षित जगह पर रखने के लिए आप वापस आकर सुनिश्चित करतीं है कि आपका बच्चा  पूरी तरह से सुरक्षित है।

चरण 3

आप अपने शरीर पर पानी के गर्म जेट को महसूस करती हैं और आपको लगता है कि आपके थके शरीर को  हॉट शावर  की कितनी ज़रूरत है |

चरण 4

कमरे से आप एक क्रीक की हल्की आवाज़ सुनती हैं। आप पूरी तरह से सुनिश्चित नहीं हैं क्योंकि साथ में पानी के प्रवाह की आवाज भी है। आप जल्दी से साबुन लगाना रोक देती हैं ताकि आप आवाज़ अच्छे से सुन पाएं, आपको अब भी कुछ समझ नहीं आता इसलिए शावर लेने का का निर्णय करतीं है |

चरण 5

आप निश्चित रूप से इस बार रोना सुनती हैं। आप जल्दी से शैम्पू को धोती हैं और जल्दबाज़ी से अपने आप को गिरने से बचाने की कोशिश करती हैं।

चरण 6

रोना काफी जोर से बढ़ जाता है और अब आप कुछ नहीं कर सकती सिवाये  हड़बड़ाने के |

चरण 7

एक पल के लिए रोना बंद हो जाता है पर  आपको पूरा यकीन नहीं है कि आपको थोड़ी राहत मिली या नहीं | किसी भी सूरत में आप जल्द से जल्द बाथरूम से निकलना चाहतीं है |

चरण 8

किसी भी तरह एक तौलिया से अपने आपको लपेटकर दौड़ कर बाहर आतीं है  | बच्चा अब बैचैन है,आप उसे अकेला नहीं छोड़ सकती, लेकिन उसे अकेला छोड़ने के लिए आप बेहद दोषी महसूस करतीं  हैं | आप अपने और अपने बच्चे से वादा करती हैं कि ऐसा दोबारा नहीं होगा।

चरण 9

बच्चा किसी तरह आपकी बाहों में आकर शांत हो जाता है। तौलिया में बच्चे को लेकर घूमना आपके लिए असुविधाजनक है, लेकिन आपके पास और कोई रास्ता नहीं है | जब आपका बच्चा पूरी तरह से ठीक हो जाता है, तो आप उसे बिस्तर पर सुला देती हैं और तब कपड़े पहनती हैं।

चरण 10

आप कपड़ा पहन लेती हैं, लेकिन जब आप कंघी करना शुरू करती हैं, तो आप यह महसूस करती हैं कि आपने वास्तव में शैम्पू को पूरी तरह से नहीं धोया है!

जब आपका बच्चा अगले कमरे में बिना किसी निगरानी के हो  तो स्नान करना आपके लिए परेशानी का कारण हमेशा रहेगा | पर  यह वक़्त जल्द ही चला जायेगा, चिंता न करें!

Leave a Reply

%d bloggers like this: