अपने-भाई-को-बताएं-उनकी-अहमियत-इस-रक्षाबंधन—एक-अलग-अंदाज़-में-xyz

1. जब खुदा ने दुनिया को बनाया होगा

एक बात से जरूर घबराया होगा

कैसे रखूँगा ख्याल इतनी कुड़ियों का,

तब उस ने सब के लिए एक भाई बनाया होगा

-भाई आप जैसा कोई नहीं

2. कामयाबी तुम्हारे कदम चूमें,

खुशियां चारो ओर हो,

पर भगवान से इतनी प्रार्थना करने के लिए

तुम मुझे कुछ तो कमीशन दो

– मेरे सबसे, सबसे प्यारे पर थोड़े कंजूस भाई के लिए


3. चंदन का टीका रेशम का धागा;

सावन की सुगंध बारिश की फुहार;

भाई की उम्मीद बहना का प्यार;

मुबारक हो आपको “”रक्षा-बंधन”” का त्योहार।

– भाई आपकी बहुत याद आती है

4. उसका हुश्न गया कलेजा चीयर,

नयनो से बरबस छूटता एक तीर

वो मुस्कुरायी, नज़दीक आयी,

बोली राखी बँधवाले मेरे वीर।

भाई आपके लिए


5. ये लम्हा कुछ ख़ास है,

बहिन के हाथ में भाई का हाथ है,

मेरी रक्षा के खातिर

मेरा भाई हमेशा मेरे साथ है

6. बहन चाहे प्यार – दुलार

नहीं मांगती खुशियां हज़ार,

रिश्ता बने रहे सदियों तक,

मिले भाई-भाभी को खुशियां हज़ार।

-भाई-भाभी आप हमेशा सलामत रहो

7. भाई की कलाई पर राखी बांधती है बहना

स्नेह का यह रिश्ता, कितना प्यारा है ना

रक्षा का यह वचन हर हाल में निभाना है

पुकारे जब भी बहिन तो दौड़ चले आना है

8. सावन के महीने में राखी का त्यौहार आता है

परिवार के लिए जो कि ढ़ेरों खुशियाँ लाता है

रक्षाबंधन के पर्व की कुछ अलग ही बात है

भाई बहिन के लिए पावन प्रेम की सौगात है।

9. रिश्ता है जन्म जन्म का हमारा

बंधन है ये अनमोल प्यारा,

चलो बांधें इस राखी के बंधन में,

भाई है तू मेरा राज दुलारा

– तुम हमेशा मेरे लिए सबसे पहले आओगे

10. हर गली फूलो से सजा रखी है,

हर चौंक पर लड़कियां बिठा रखी हैं,

जाने किस गली से गुज़रेंगे आप,

हर लड़की के हाथ में राखी थमा रखी है

– आपकी मस्तीखोर बहन

Leave a Reply

%d bloggers like this: