garbhawastha-aur-prasav-mein-muh-ki-safai-ki-bhumika

गर्भावस्था के वक्त महिलाओं के लिए अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत और जागरूक रहना चाहिए। महिलाओं को क्या करें और क्या न करें व समय से जरूरी जांच करने आदि की सलाह दी जाती है। लेकिन इन सब बातों के बीच अक्सर दांतों और मुंह की सफाई को नजरअंदाज कर दिया जाता है। लेकिन गर्भवती के स्वास्थ्य और आरामदायक प्रसव के लिए दांतों की अहम भूमिका होती है। इस लेख को पढ़ कर जानें कि आरामदायक डिलीवरी के लिए मुंह की सफाई क्यों है जरूरी।

दांतों की सफाई का सेहत पर असर

1. इससे होने वाले बच्चे को बीमारियों से बचाने में मदद मिलती है।

2. कई शोधों में भी यह साबित हो चुका है कि गर्भावस्था के दौरान मसूड़ों की बीमारियों के चलते बच्चे का जन्म जल्दी होने या बच्चे का वजन कम होने की सात गुना संभावनाएं बढ़ जाती हैं। इस दौरान नियमित मुंह की सफाई, दिन में दो बार ब्रश करना और एंटी माइक्रोबाइल माउथवॉश का प्रयोग बहुत महत्वपूर्ण होता है।

3. गर्भावस्था से जुड़ी दांतों की समस्या आम है, जिसे प्रेग्नेंसी जिंजिवाइटिस (गर्भावस्था के दौरान मसूड़ों की समस्या)भी कहा जाता है। गर्भवती और सामान्य महिलाओं पर किये गये अध्ययनों से यह पता चला है कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में मसूड़ों में सूजन आ जाती है और इनमें से ब्लड निकलने लगता है।

4. वास्तव में, 10 में से 8 महिलाएं मसूड़ों के कमजोर होने और मुंह संबंधी दूसरी बीमारियों की शिकायत करती हैं। लेकिन यदि गर्भावस्था के दौरान मसूड़ों की बीमारियों को जल्द पहचान लिया जाए तो इसका इलाज आसानी से हो सकता है।

5. ध्यान रखें बच्चा प्लान करने से पहले मुंह से जुड़ी किसी भी बीमारी का समय पर इलाज करायें। किसी अच्छे डेंटिस्ट से दांतों की नियमित जांच करायें, ताकि मसूड़ों की बीमारियों का पता चल सके।

6. गर्भावस्था के दौरान दांतों की अतिरिक्त केयर करें, अन्यथा मिंह के किसी संक्रमण का बुरा असर मां और बच्चे दोनों के स्वास्थ्य पर पड़ता है।

7. दिन में दो बार ब्रश करें और एंटी माइक्रोबियल माउथवाश का प्रयोग करें।

8. ब्रश नाजुक हाथों से करें, ताकि कहीं कोई जख्म ना हो जाए।

9. एंटी माइक्रोबियल माउथवॉश आपके मसूड़ों को 100फीसदी सुरक्षित बनाता है।

10. अध्ययनों से पता चला है कि माउथवॉश मसूड़ों की बीमारियों को 56 फीसदी कम कर देता है और केवल ब्रश करने से इन बीमारियों में महज 21 फीसदी कमी आती है।

इसके साथ ही संतुलित और पौष्टिक आहार लें, आराम करें और अपनी पूरी तरह देखभाल करें, ताकि आप स्वस्थ बच्चे को जन्म दे पायें।

यह बात तो तय है कि मुंह की सफाई ठीक प्रकार से न करने पर आप कई बीमारियों और संक्रमणों को खुला न्योता देती हैं। लेकिन गर्भावस्था के समय आपको संक्रमण होने की ज्यादा संभावना होती है, मुंह की सफाई न करने से आप और आपके होने वाले बच्चे दोनों के स्वास्थ्य पर भारी संकट आ सकता है। इसलिए गर्भावस्था के समय और गर्भधारण के पहले दांतों की जांच भी अवश्य करा लें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: