garbhawastha-mein-dhundla-kyon-dikhai-deta-hai-iska-upay-jane

  गर्भावस्‍था में मार्निंग सिकनेस, पीठ और कमरदर्द तो सामान्‍य है, लेकिन इस दौरान कुछ महिलाओं को धुंधला दिखाई देने लग जाता है।

सच्‍चाई यह है कि गर्भावस्‍था के दौरान हार्मोन परिवर्तन के कारण शरीर में कई प्रकार के बदलाव होते हैं और इसका असर आंखों पर भी पड़ता है। इस कारण देखने की क्षमता कम हो जाती है या फिर आंखें धुंधली हो जाती हैं। हालांकि यह बहुत सामान्‍य समस्‍या है जो प्रसव के बाद अपने-आप सामान्‍य हो जाती है। आइए हम आपको इस समस्‍या के बारे में विस्‍तार से जानकारी देते हैं।

नजर धुंधली होने के कारण

गर्भवती महिला को देखने में दिक्‍कत हो सकती है। प्रेग्‍नेंसी में आंखों में दिक्‍कत के लिए तरल पदार्थ जिम्‍मेदार होते हैं। इस दौरान शरीर में खून का संचार और तरल पदार्थों का ज्‍यादा निर्माण होता है। इन तरल पदार्थों के कारण आंखों के लेंस और कार्निया मोटे हो जाते हैं और इसके कारण आईबॉल पर दबाव पड़ता है। हालांकि यह उच्‍च रक्‍तचाप के कारण भी हो सकता है। गर्भावस्‍था के दौरान न केवल नजर धुंधली हो जाती है बल्कि कुछ मामलों में आंखें सूख भी जाती हैं।

नजर धुंधली होने पर क्‍या करें

गर्भावस्‍था के दौरान आपकी नजर धुंधली हो गई तो कांटेक्‍ट लेंस का प्रयोग करने से अच्‍छा है आप चश्‍मा पहनिये।

हालांकि चिकित्‍सक भी इस दौरान कांटैक्‍ट लेंस पहनने की सलाह बिलकुल नही देते हैं।

इस मामले में आपको नेत्र रोग विशेषज्ञ (आफ्थैल्‍मोलॉजिस्‍ट) से संपर्क करना चाहिए। नेत्र रोग विशेषज्ञ आपको लूब्रीकेटिंग ड्रॉप का उपयोग करने की सलाह दे सकता है, जब आंखें सूखी हो जायें तो इसका प्रयोग कीजिए।

वैसे तो यह कोई गंभीर समस्‍या नही है, प्रसव के बाद यह अपने आप ठीक हो जाएगी। लेकिन यदि गर्भावस्‍था के दौरान आपको देखने में ज्‍यादा दिक्‍कत हो रही है तो अपने चिकित्‍सक से एक बार परामर्श अवश्‍य लीजिए।

ज़्यादा देर कंप्यूटर और लैपटॉप पर काम न करें। अगर करती भी हैं तो बीच बीच में थोड़ा ब्रेक ले लें। इनकी स्क्रीन से दूरी बनाए रखें। मोबाइल का प्रयोग भी ज़रूरत से ज़्यादा न करें।

आप बैठने के पोस्चर पर ध्यान दें। लेट कर न पढ़ें। सम्पूर्ण रौशनी में पढ़ें।

प्रसव के बाद भी आपकी आंखें सामान्‍य नही हुई हैं तो आप कुछ सप्‍ताह तक आंखों के सामान्‍य होने के लिए इंतजार कर सकती हैं।

यदि आपकी आंखें प्रसव होने के 6-7 महीने बाद तक भी सामान्‍य नही हुई हैं तो आप आंखों की सर्जरी करा सकती हैं। एक सामान्‍य सर्जरी से यह समस्‍या दूर हो जाएगी।

चिकित्‍सक से कब संपर्क करें

गर्भावस्‍था के दौरान आपको देखने में दिक्‍कत हो रही है और आपकी नजर धुंधली हो गई है तब आप चिकित्‍सक से संपर्क कर सकती हैं। हालांकि आंखों की यह समस्‍या गर्भावधि मधुमेह या उच्‍च रक्‍तचाप का लक्षण भी हो सकता है। इसलिए जांच के बाद ही इसका उपचार कीजिए।

गर्भावस्‍था के दौरान नियमित व्‍यायाम और पोषणयुक्‍त आहार का सेवन करने से आंखों की यह समस्‍या कम ही होती है। गर्भवती महिलाओं को पानी ज्‍यादा मात्रा में पीना चाहिए और यदि फिर भी आंखों की यह समस्‍या हो रही हो तो च‍िकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें।

अपनी आँखों का ख्याल रखें और लोगों तक इस पोस्ट के माध्यम से जागरूकता फैलाएं। इसे शेयर करें

Leave a Reply

%d bloggers like this: