नाक-छिदवाने-के-अद्भुत-फायदे-xyz

सालों से महिलाएं नाक छिदवाती आ रही हैं। परन्तु इसके पीछे की वजह को नहीं समझ पायी हैं। वे बस इसे एक सौंदर्य बढ़ाने का जरिया मानती हैं। देखने में खूबसूरत लगने वाली नाक की बाली, आपके शरीर पर भी लाभकारी असर डालती है। इस पोस्ट में इसी के बारे में कुछ दिलचस्प बातें लिखीं गयीं हैं।

नाक में छेद करवाने के लिए कोई विषेश उम्र नहीं होती। इसे बचपन, किशोरावस्था, वयस्क होने पर कभी भी करवा सकते हैं। गर्भावस्था में भी महिला नाक छिदवा सकती है। इससे शिशु पर कोई नकारात्मक असर नहीं पड़ेगा।

भारत में नाक छिदवाना आम बात है। पर क्या आप जानती हैं की यह प्रथा पूर्वी देशों से आई है। 16वी सदी में यह प्रथा भारत में आई।

वेदों में इसके फायदे के बारे में लिखा गया है।

नाक छिदवाने से

i) महिला को माहवारी पीड़ा से राहत मिलती है।

II) शिशु को जन्म देने में आसानी होती है।

iii) इसके अतिरिक्त महिला को सर दर्द से भी निजात मिलता है।

आप जानना चाहती होंगी की ऐसा कैसा मुमकिन है?

नाक छिदवाने से आपके बदन के विशिष्ट प्रेशर पॉइंट्स प्रभावित होते हैं। इनसे शरीर में खास दबाव पैदा होता जो हॉर्मोन पैदा करता है। यह हॉर्मोन आपके दर्द को कम करने में मदद करते हैं।

नाक छिदवाना महिला के 16 श्रृंगार का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इससे आप विपरीत लिंग के प्राणी को अपनी तरफ आकर्षित कर सकती हैं।

जैसे चाईनीज़ लोग अक्युपंचर पद्धति का इस्तेमाल करते हैं जिससे बदन के विशिष्ट प्रेशर पॉइंट्स पर दबाव बना कर आपको दर्द से राहत मिलती है वैसे ही नाक छिदवाने से महिला को दर्द से राहत मिलती है। शायद इसका असर आप फौरन न देख सकें परन्तु धीरे धीरे आप फर्क देख पाएंगी।

ध्यान रहे की नाक छिदवाते समय आप ढंग की साफ़-सुथरी दुकान से विसंक्रमित उपकरणों से ही कान छिदवाएँ। इससे आपको कोई संक्रमण नहीं होगा। कान छिदवाने में लापरवाही बरतने से महिलाओं की नाक के आस-पास सूजन आ जाती है।

इलाज से बेहतर रोकधाम होती है। अपना ध्यान रखें क्योंकि परिवार की ज़िम्मेदारी आपके कंधे पर आएगी। स्त्री को कई भूमिकाएं निभानी होती हैं, बेटी, बीवी, माँ, बहन, भाभी और बहु की। इसलिए आप जागरूक बनें और स्वस्थ्य रहें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: