video-aasan-delivery-aur-kam-dard-ke-liye-yah-vyayam

आइए हम आपको कुछ व्यायाम के करने के तरीके और उसके फायदे के बारे में बताते हैं:

– गर्भावस्था के समय हफ्ते और महीने के हिसाब से व्यायाम करना चाहिए क्योंकि बच्चे के बढ़ते वज़न के कारन आपके लिए रोज़ाना व्यायाम करना कठिन हो सकता है|

– गर्भावस्था के 4 महीनो तक आप अपने साइड में लेट कर व्यायाम कर सकती हैं| इसे करने के लिए पहले अपनी पीठ के बल लेट जाएँ, दोनों हाथों को साइड पे रखें और दोनों पैरों को सामने की तरफ सीधा कर के फैला लें| इसके बाद अपने हाथों को सर के पीछे रखकर अपने सर से सीने को छूने की कोशिश करें, इस पोजीशन में कम से कम 3 सेकंड के लिए रहें उसके बाद अपनी पहली स्तिथि में वापस आजायें|

– इस व्यायाम को रोज़न 3-5 मर्तबा करें, अगर रोज़ाना इस व्यायाम को आप कसरत से करती हैं तो आपके पेट की मांसपेशियां मज़बूत बनेंगी|

– इसके इलावा ज़मीन पर सीधे लेट कर अपने घुटनों को अपनी तरफ खीचें, इस हरकत को हर रोज़ 4-5 बार दोहराएं| गर्भावस्था के 5-6 महीने बाद इस व्यायाम को ज़मीन पर लेट कर करने के बजाये दीवार का सहारा लेकर करें|

गर्भावस्था में व्यायाम करने के फायदे

– कई गर्भवती माओं को ये गलत फेहमी रहती है की अगर वो गर्भावस्था के हालत में व्यायाम करेंगी तो उनके पेट में पलने वाले शिशु को नुक्सान पहुँच सकता है, लेकिन हक़ीक़त ये है की अगर व्यायाम सही से किया जाए तो ये माँ और होने वाला बच्चा दोनों के लिए बेहतर होगा|

– गर्भावस्था में आपके पेट की मांसपेशियों का दुरुस्त होना बहुत ज़रूरी है क्योंकि उसी में आपके बच्चे का रहना सहना है|

(video)आसान और कम दर्द की डिलीवरी के लिए यह व्यायाम रोज़ करें |

Leave a Reply

%d bloggers like this: