(video)शिशु को सही उम्र से ABC …. अल्फाबेट्स (alphabets) सिखाने का नया गीत।

 

 आज के आधुनिक जीवन में सीखने और सिखाने का माध्यम बदल गया है। लोग नए और असरदार तरीकों से चीज़े अपनाने लगे हैं। तो यह वह वक़्त है जब आप भी इन चीज़ों को अपनाएं। दूसरे शिशुओं के लिए इसे शेयर करें और उन्हें शिक्षित करें।

पीछे न रहे –

साथ ही जानें –

जन्म के निशान के साथ कई प्रकार की मिथ्या जुड़े होते हैं। इस निशान का संबंध आपके शिशु के पूर्व जन्म और आने वाले भविष्य से हो सकता है। क्या आप भी यह जानने के लिए उत्सुक हैं, की आपके शिशु के पांव या गाल पर बने एक छोटे से जन्म निशान का अर्थ क्या है?

यह है शिशु की कुछ सामान्य जगह, जहां जन्म का निशान पाया सा सकता है और उनका महत्व।

1. माथा

आपके शिशु के माथे पर दाहिने ओर पाया जाने वाला जन्म निशान दर्शाता है, कि आपका शिशु बहुत बुद्धिमान होगा और शिक्षा के क्षेत्र में बहुत आगे जाएगा। अगर यह निशान माथे के बाईं ओर है, तो यह दर्शाता है कि शिशु गैर – जिम्मेदार और असाधारण होगा। अगर यह निशान माथे के बीच में है, तो यह दर्शाता है कि आपका शिशु आकर्षक होगा और सबका दिल जीत लेगा।

2. गाल

लड़कों के लिए, यदि आपके शिशु के बाएँ गाल पर जन्म का निशान है, तो यह दर्शाता है कि वह उस हर गति-विधि के लिए समर्पित होगा, जो भी वह करेगा। वहीं अगर शिशु के दाएँ ओर यह निशान हैं, तो इसका मतलब यह है की वह वित्तीय समस्याओं से जूझ सकता है। लड़कियों के लिए, बाएँ गाल पर पाया जाने वाला निशान दर्शाता है की उनकी शादीशुदा जिंदगी बहुत खुशहाल होगी और दाएँ गाल का निशान दर्शाता है की वह निराशावादी हो सकते हैं।

3. होंठ

सामान्य तौर पर शिशु के होंठों पर पाया जाने वाला निशान दर्शाता है की शिशु बहुत बातूनी होगा। अगर यह निशान होंठ के कोने में है, तो यह दर्शाता है की शिशु खानें का बहुत शौकीन होगा और निचले होंठ पर पाया जाने वाला निशान दर्शाता है की वह सभी जिम्मेदारियों को गंभीरता से लेगा।

4. गर्दन

गर्दन पर पाया जाने वाला जन्म निशान दर्शाता है, कि आपका शिशु बहुत कामयाब व्यक्ति बनेगा। हालांकि,सफलता हासिल करने के लिए उन्हें अपने प्रियजनों से दूर होना होगा।

5. पाँव

अगर आपके शिशु के पाँव में जन्म निशान हैं, तो इसका मतलब है कि वह अपने फैसले लेने के लिए दूसरों पर निर्भर होते हैं। जांच पर जन्म का निशान दर्शाता है कि आपका शिशु खुश-हाल जिंदगी जियेगा और उसे जीवन में बहुत कुछ हासिल होगा।

6. पीठ

पीठ के निचले हिस्से में पाया जाने वाला निशान दर्शाता है कि आपका शिशु ईमानदार व्यक्ति होगा और पीठ के निचले हिस्से में पाया जाने वाला निशान दर्शाता है की वह बहुत लचीला और नए विचारों के प्रति उदारवादी होगा।

7. हाथ

दोनों ही हाथों पर पाए जाने वाले जन्म के निशान बहुत शुभ संकेत देते हैं क्योंकि यह दर्शाता है कि आपका शिशु में महान क्षमताएं हैं। अगर आपके शिशु की उंगली में जन्म का निशान है तो यह दर्शाता है कि वह स्वतंत्र रहना पसंद करेंगे।

ना केवल जन्म के निशान को स्थिति बल्कि उसका रंग भी मायने रखता है। सफेद रंग का निशान पूर्व जन्म के किसी ज़ख्म को दर्शाता है और लाल रंग का निशान पूर्व जन्म में किसे जले हुए निशान को दर्शाता है।

यह जानना भी आवश्यक है कि जन्म के निशान का अर्थ, हर संस्कृति में अलग-अलग होता है। तो इसकी चिंता बिल्कुल ना करें, अगर आपके शिशु का जन्म का निशान कुछ नकारात्मक संकेत देता है। यह स्पष्टता प्रमाणिक तथ्य नहीं है। लेकिन जब आपके पास पर्याप्त समय हो, तब आप मज़े के लिए एक बार यह ज़रूर कर सकती हैं।

 आप यदि किसी को जानते हैं जिनके यह चिन्ह हैं तो उनसे ज़रूर शेयर करें –

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: