मोटापा बना आपकी गर्भावस्था का दुश्मन- जानिये कैसे

गर्भावस्था से पहले अगर आपका काफ़ी वज़न है तो आपको गर्भवती होने में दिक्कतें आ सकती हैं| गर्भावस्था के समय मोटापा के कारण IVF ट्रीटमेंट में बहुत मुश्किलें आती हैं, IVF ट्रीटमेंट के दौरान महिला के अंडे और पुरुष के स्पर्म को मिलाकर एक एम्ब्रीओ तैयार किया जाता है जिसे फिर महिला के यूटेरस में डाला जाता है| जितना अधिक आपका वज़न उतना ही मुश्किल है आपका गर्भवती होना|

गर्भावस्था के समय यदि आपका वज़न अधिक है तो आपको इन दिक्कतों से गुज़ारना पड़ेगा:

– हाई ब्लड प्रेशर, प्रीक्लैम्प्सिआ और खून की गाठ बनने की परेशानी| हाई ब्लड प्रेशर तब होता है जब खून का बहाव ब्लड वेसल की दीवारों पर बहुत अधिक होता है| प्रीक्लैम्प्सिआ एक ऐसी स्तिथि है जो गर्भावस्था के 20 हफ़्तों बाद या गर्भावस्था के फ़ौरन बाद होती है, ये बीमारी तब होती है जब एक गर्भावस्था महिला को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत होती है और ऐसे कुछ निशान जैसे उसके कुछ अंग- किडनी या लिवर सही से काम नहीं करना और ब्लड क्लोटिंग तब होता है जब खून की गाँठ पूरी तरह से खून के बहाव को रोकती है|


– गर्भावस्था के समय कुछ महिलाओं को डायबिटीज़ होने की शिकायत होती है और ये तब होता है जब वो अपने आहार में चीनी का सेवन बढ़ा दें जिसके कारण उनके खून में चीनी(ग्लूकोज़) की मात्रा अधिक हो जाती है|


– बच्चे को डीयू डेट के बाद जन्म देना और लेबर के समय तकलीफें आना| अगर आपका वज़न अधिक है तो अन्य सेहतमंद महिलाओं के मुताबिक़ आपको ज़्यादा दिनों के लिए अस्पताल में रहना होगा|

– सी- सेक्शन होने की संभावना बढ़ जाना| यदि आपका वज़न बहुत ज़्यादा है तो आपको सी-सेक्शन करवाते समय भी परेशानी आ सकती है जैसे कोई इन्फेक्शन होना या खून का बड़ी मात्रा में बहना|



– मिसकैरेज या बच्चे का मृतजन्म होना भी संभव है अगर आपका वज़न अधिक है| मिसकैरेज तब होता है जब बच्चे की गर्भावस्था के 20 हफ़्तों बाद मृत्यु हो जाती है और मृतजन्म वो होता है जब एक मृत बच्चा पैदा होता है|

– गर्भावस्था के बाद वज़न घटाने में मुश्किलें आना|

– गर्भावस्था के समय यूरिनरी ट्रैक्ट में इन्फेक्शन होना|

इन बातों के माध्यम से अपने बढ़ते वज़न की बुराइयों के बारे में जानें और साथ ही इस पोस्ट को दूसरी महिलाओं में शेयर करें ताकि उन्हें मोटापे से होने वाले खतरों के बारे में पता चल सके!

Leave a Reply

%d bloggers like this: