नवरात्री में महिलाओं का साज-शृंगार कैसा हो?जानें कुछ स्टाइल टिप्स

नवरात्र में दुर्गा माँ साक्षात धरती पर आने की धारणा रखी जाती है। इसलिए माँ को प्रसन्न रखने के लिए महिलायें साज-श्रृंगार करती हैं।

उत्तर भारत में नौ दिनों तक चलने वाला नवरात्र का त्यौहार बड़ी ही श्रद्धा और धूमधाम से मनाते हैं। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल, ओड़िसा, आसाम, त्रिपुरा, बिहार, झारखण्ड और उनके आस पास के राज्यों में भी माँ दुर्गा के आगमन में कई तैयारियाँ की जाती हैं।

इस समय महिलाएं किस तरह से सज्जित हों, इसके लिए कुछ टिप्स फॉलो करें:

1. पर्व पर पारम्परिक वस्त्र पहनें

पूजा के समय महिलाओं को जीन्स और स्कर्ट नहीं बल्कि भारतीय सभ्यता के अनुसार कपड़े पहनने चाहिए। इससे वह मर्यादा में रहेंगी और देवी का मान भी रह जायेगा।

2. उजले रंग पहनें

नवरात्र में गहरे रंग छोड़कर, हलके उजले रंग पहनें। इनसे मूड अच्छा बन जाता है और पहनने व देखने वाले को राहत व सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति होती है। इन्हें पहन कर आप के रूप भी खिला खिला नज़र आयेगा।

3. हल्का-फुल्का मेकअप ही करें

त्यौहार के समय अत्यधिक मेकअप करने से आपका चेहरा बूढा नज़र आने लगेगा। इसलिए हल्का सा फाउंडेशन या पाउडर और काजल-बिंदी लगा लें। ज़्यादा मेकअप पोतने से कोई खूबसूरत नहीं बनता। असली खूबसूरती तो प्राकृतिक रहने में ही होती है।

4. ज्वेलरी हल्की रखें

नवरात्र की पूजा में आपको प्रार्थना आदि करना पड़ता है और ज़रूरत पड़ने पर बाहर जाना भी पड़ सकता है। इसलिए ज़्यादा भारी आभूषण न पहनें। हलके फुल्के चेन पहन सकते हैं। ध्यान रहे की वह फैशनेबल भी लगे और आपको चलने-फिरने में दिक्कत न हो।

5. ज्वेलरी ऐसी पहनें जो आपके कपड़े से मेल खाती हो।

इन सबके अलावा ध्यान देने योग्य बातें :

6. मेकअप ज़्यादा पुराना न हो

मेकअप में भी केमिकल होते हैं। इसकी एक्सपायरी डेट भी होती है। इसलिए ध्यान रखें की दो-तीन साल पुरानी लिपस्टिक न लगाएं। इससे आपके होंठों में खुजली, जलन या फटने की शिकायत हो सकती है। होठ काले भी पड़ सकते हैं।

7. पार्लर पहले चले जायें

अगर आप पार्लर जाने का प्लान कर रही हैं, तो आप नवरात्र के एक हफ्ते पहले पार्लर चली जायें क्योंकि बाद में वहाँ काफी भीड़ हो जाती है।

8. ज़रूरत से ज़्यादा खरीददारी से बचें

खरीदते समय ज़रूरत से ज़्यादा कॉस्मेटिक्स न खरीदें क्योंकि बाद में वह इस्तेमाल नहीं होता और पड़े पड़े एक्सपायर हो जाता है।

इसके साथ साड़ी का ब्लॉउस सिलवाना हो तो पहले ही टेलर को दे दें और बता दें की वह जल्दी सील कर दे दे वरना वे भी बाद में दे सकते हैं।

तो इन छोटी-मोटी बातों पर ध्यान दें और इस पोस्ट को शेयर करें।

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: