123

हर बच्चे का जन्म अलग तरीके से होता है, कुछ बच्चों को बाहर आने में कई घंटे लग जाते हैं और कई कुछ ही मिनटों में जन्म ले लेते हैं| कई डिलीवरी शांत रूप से हो जाती है और कई में काफ़ी कॉम्प्लिकेशन आते हैं|

जबकि सारी पैदाईशें अद्बुध होती हैं, हर माता-पिता अपने बच्चे को पहली बार देखने की ख़ुशी को ज़ाहिर नहीं कर पाते| हम आपके लिए ऐसी कुछ अद्बुध तसवीरें लाए हैं जिसे देखकर आप अपने उस दिन को याद कर सकेंगी जब आपने पहली बार अपने बच्चे को कोक से निकलते देखा था|

इस बच्ची के बाल हैं


इस माँ के गर्भावस्था के 27 हफ़्ते हुए थे की उसे इंफ्लेमेटरी ब्रेस्ट कैंसर(स्टेज 3) से गुज़रते हुए पाया गया| इनके डॉक्टरों ने उनपर हलके डोज़ की कीमोथेरेपी ट्रीटमेंट करने की सोची ताकि उनके बच्चे को कोई नुक्सान ना पहुँचे| हर माँ अपने बच्चे की सर पे बाल देखकर बहुत खुश होती है लेकिन इस माँ के सारे बाल कैंसर के थेरेपी से झड़ गए थे और जब इसने अपनी बच्ची के सर पर इतने बाल देखे कर उसे अधिक ख़ुशी मिली और वो ख़ुशी के आँसू खुद ब खुद निकलने लगे|

आखिर इस पिता को अपने बच्चे को देखने और छूने का मौका मिला


जब इनके बच्चे ने इस दुनिया में क़दम रखा तो अस्पताल का वो कमरा ख़ुशी से झूम उठा और बच्चे को देखते ही पिता खुदको संभाल नहीं पाए| पिता को वो लमहा बिलकुल अद्बुध और अनोखा लग रहा था जैसे की कोई जादू या चमत्कार हुआ हो|

ज़िन्दगी किसी चमत्कार से कम नहीं है


इस महिला का लेबर इतनी जल्द बाज़ी में हुआ की वो हॉस्पिटल जाते-जाते हॉस्पिटल के बाहर ही अपनी बच्ची को जन्म दे दिया| सब कुछ बिलकुल सही समय पर हुआ और इस तस्वीर में पिता के असली प्रतिक्रिया खुलकर निकली| बच्चे का जन्म बिलकुल सुरक्षित तरीके से हुआ और बच्चा अब अपने माता-पिता के साथ बिलकुल स्वस्थ है|

माँ का धैर्य


हर बच्चे का जन्म लेने का समय ही बहुत अद्बुध होता है और वो देखने लायक रहता है| ये तस्वीर एक माँ के बच्चे को जन्म देने के धैर्य को साफ़-साफ़ दर्शाता है| एक ही फ्रेम में ये तस्वीर कई भावनाओं को दर्शाता है- माँ का अपने बच्चे के लिए वो प्यार जो पहले से ही उत्पन हो जाता है बिना अपने बच्चे को देखे|

इस पिता ने उस हसीन लमहे को खूब अच्छे से जिया


7 साल तक बांझपन झेलने के बाद इस जोड़े ने एक खूबसूरत बच्ची को जन्म दिया| जैसे ही उस बच्ची को उसके पिता के सीने पर रखा गया वो उस लमहे में पूरी तरह डूब गए और अपनी बच्ची से दूर होना ही नहीं चाहा|

ये एक लड़की है


ये वो लमहा था जब एक माँ ने अपनी बच्ची को पहली दफ़ा देखा और उसे गर्व महसूस हुआ क्योंकि उन्होंने अभी-अभी एक नन्ही जान को जन्म दिया था! इनके पहले से ही 2 बेटे थे और जैसे ही उन्हें पता चला की ये बच्चा एक लड़की है उनकी ख़ुशी का ठिकाना ना रहा!

Leave a Reply

%d bloggers like this: