प्रेगनेंसी के दौरान कुछ डेली कॉमन सेफ्टी टिप्स

हर माँ-बाप चाहते हैं की उनका बच्चा जन्म से पहले और जन्म के बाद हमेशा सुरक्षित रहे। पर यह सिर्फ चाहने से नहीं होता इसके लिए माता-पिता को बहुत सी बातों का ध्यान भी रखना पड़ता है। खासकर के माँ को, जब कोई महिला गर्भधारण करती है तो ये न सिर्फ उसके लिए बल्कि उससे जुड़े अन्य लोगो के लिए भी बहुत ही ख़ुशी का मौका होता है। पर इस मौके पर सावधानी बरतना भी बहुत ही ज़रूरी है। अगर महिला पहली बार माँ बन रही है तो उनके लिए यह वक़्त और ज़्यादा सवेंदनशील होता है क्यूंकि पहली बार माँ बन रही महिला अपने अंदर हो रहे बहुत से बदलावों को समझ नहीं पाती और बहुत जल्दी घबरा जाती है या पैनिक हो जाती है या अगर खाने के बारे में ज़्यादा कुछ नहीं पता हो तो कुछ गलत चीज़ भी खा लेती हैं, जिससे उन्हे और उनके बच्चे को नुकसान हो सकता है। इसलिए इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे प्रेगनेंसी के दौरान कुछ कॉमन मिस्टेक्स जो गर्भवती महिलाएं कर बैठती हैं जिसे उन्हे नहीं करना चाहिए।

1. प्रेगनेंसी के दौरान महिला नार्मल घर के काम कर सकती हैं पर ध्यान रहे की आप कुछ भारी काम न करें और सारा काम अपने ऊपर न लें। इसके अलावा डॉक्टर से सलाह ले की घर के क्या काम आप कर सकती हैं क्या नहीं।

2. जब आप किचन या कहीं भी चले या बाथरूम से निकले तो ध्यान रखें की फर्श पर पानी न गिरा हो क्यूंकि इससे आपका फिसलने का खतरा रहता है।

3. हाई हील्स या फिसलने वाले फुटवियर न पहने इससे आपका बैलेंस गड़बड़ हो सकता है और आप गिर सकती हैं।

4. प्रेगनेंसी के दौरान आप स्ट्रेस न लें क्यूंकि अगर होने वाली माँ किसी टेंशन में रहेगी तो इसका प्रभाव उसके बच्चे पर भी पड़ता है।

5. नींद ज़रूर पूरी करें, बहुत सी महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान भी ऑफिस जाती है और घर का काम भी मैनेज करती हैं और इसी चक्कर में वो पूरी तरह से नींद नहीं ले पाती जो की माँ और बच्चे दोनों के लिए सही नहीं है। इसलिए अपने नींद के साथ कोम्प्रोमाईज़ बिलकुल न करें क्यूंकि एक गर्भवती महिला को 8 से 9 घंटे की नींद लेनी ज़रूरी होती है।

6. खाने का ख्याल रखना भी बहुत ही ज़्यादा ज़रूरी होता है, हेल्थी खाना खाएं, ज़्यादा देर भूखे न रहें पर इसका मतलब ये भी नहीं की आप ओवर इट कर लें। अकसर गर्भवती महिलाएं ज़रूरत से ज़्यादा खाने की गलती कर बैठती हैं, उन्हे लगता है की उन्हें दो लोगो का खाना खाना चाहिए पर ऐसा कुछ भी नहीं है। सही खाएं, सिमित मात्रा में खाएं और थोड़ा-थोड़ा कर के हर कुछ घंटो में खाएं।

7. व्रत न करें और अगर आप व्रत कर भी रहीं हैं तो निर्जला व्रत न करें। फलाहार करें, जूस, दूध इत्यादि का सेवन करें।

8. प्रेगनेंसी के दौरान महिला को क्रेविंग्स होते हैं, उन्हे तरह-तरह की चीज़ें और चटपटा खाने का भी मन करता है इसलिए वो जंक फूड्स और बाहर का खाना भी खा लेती हैं जो की माँ और बच्चे दोनों के शरीर के लिए हानिकारक होता है। अगर मन करें तो हल्का चटपटा खाएं और स्ट्रीट फूड्स को अवॉयड कर के किसी अच्छे और हाईजेनिक जगह से ही खाएं।

9 . कोशिश करें अपने प्रेगनेंसी के दौरान आप यात्रा खासकर दूर की यात्रा कम करें। अगर आप ड्राइविंग करती हैं तो सीट बेल्ट ज़रूर लगाए ताकि ड्राइविंग के वक़्त अगर कोई जर्क हो तो आप और आपका बच्चा दोनों सेफ रहे।

10. इन सबके अलावा एक और महत्वपूर्ण और सबसे बड़ी बात पोस्टिव सोच रखें, हमेशा अच्छा सोचें और मन में कोई स्ट्रेस न रखकर अच्छी भावना रखें, इससे आप और आपका बच्चा दोनों ही खुशहाल और स्वस्थ होगा।

हैप्पी प्रेगनेंसी 

Leave a Reply

%d bloggers like this: