इस वीकेंड शॉपिंग करते वक़्त ना करें ये गलतियाँ

शॉपिंग एक ऐसी चीज़ होती है जिससे शायद ही कोई महिला इंकार करेंगी। चाहे उनके पास कितने भी कपड़े क्यों न हो, बात जब शॉपिंग की आती है तो कोई न कोई बहाना लगाकर महिलाएं ये ज़रूर कहती हैं की, ‘आजकल डेली वियर के लिए ज़्यादा कुछ नहीं है कबर्ड में’। इसी बहाने वो फ्री टाइम में शॉपिंग के लिए निकल जातीं हैं, पर शॉपिंग के लिए सुपर एक्ससिटेड महिलाएं अक्सर कुछ गलतियां कर बैठती हैं। और जब वें घर आतीं हैं तो पछताती हैं और एक्सचेंज के झंझट के वजह से वें कोम्प्रोमाईज़ कर लेती हैं। अगर आप भी इस वीकेंड शॉपिंग का सोच रहीं हैं तो ख्याल रखें कुछ बातों का और न करें नीचे दिए गए ये गलतियां।

1. कलर्स को लेकर रहें केयरफुल

अक्सर महिलाओं के पास सेम कलर या सेम प्रिंट के कपड़ों की बाढ़ सी हो जाती है। ब्लैक कलर या कोई कॉमन या ब्राइट कलर का कुर्ता या टॉप आपको बहुत पसंद आ रहा हो और आप उसे खरीद लेती हैं। फिर घर आकर देखती हैं की लगभग उससे मिलता-जुलता ड्रेस आपके पास पहले से ही मौजूद है और आपके शॉपिंग बैग में वो ही पुराने फैशन जैसा ही कुछ है, तो इससे मूड बिगड़ना लाज़मी है। इसलिए वैसे कपड़े भी न लें जैसा पहले से आपके पास मौजूद है।

कैसे बचें – जब आप शॉपिंग करने का सोच रहीं हैं या कुछ नए कपड़े लेने का सोच रही हैं तो एक बार आप अपना कबर्ड ज़रूर चेक कर लें। देखें की कौन-कौन से रंग के कपड़े आपके पास पहले से हैं। कैसे-कैसे स्टाइल के ड्रेसेस आपके पास हैं, इसके अलावा आप ये ज़रूर देखें की आपके पास बाहर पेहेन के जानें के कपड़े ज़्यादा हैं या हर रोज़ पहनने के कपड़े ज़्यादा हैं और उसी अनुसार शॉपिंग करें। ज़्यादा ब्राइट या चटकदार कलर न लें क्यूंकि कभी-कभी आप सोचती हैं की ऐसे रंग दुसरो पर अच्छे लगेंगे तो हो सकता है आप पर भी अच्छा लगे और आप इसको अच्छे से कैर्री भी कर लेंगी। पर बाद में शायद आप अपने फैसले पर पछतायें क्यूंकि हो सकता है वो कलर आपको खुद बहुत अधिक तड़क-भड़क लगने लगे।

2. चमकते-दमकते कपड़ों से करें परहेज़

अकसर महिलाएं बॉलीवुड स्टार्स के कपड़ो को देखकर मोहित हो जाती हैं। ग्लिटरी गाउन, शिमरी साड़ी या शाइनी सलवार-कमीज कभी-कभी आपको खूबसूरत लग जाती है और आप भी सोचती हैं की इस बार शॉपिंग में वैसा ही कुछ लेंगी। पर कभी आपने ये सोचा है की आप इतनी शाइनिंग कपड़े कब पहनेंगी या आप इस तरह के कपड़ों को डेली वियर में यूज़ कर सकती हैं या नहीं।

लेने से पहले सोचें- इस तरह के ग्लिटरी और शाइनी कपड़े लेने पहले थोड़ा ज़रूर सोच लें। एक्ट्रेसेस ग्रैंड इवेंट्स में ऐसे कपड़ों का चुनाव करतीं हैं, यहां तक की एक्ट्रेसेस भी डेली वियर में सिंपल कपड़ो का चुनाव करती हैं। यह आप भी समझती हैं की आप शॉपिंग करने या रोज़मर्रा की काम करते टाइम इस तरह के चमकते कपड़े नहीं पहन सकती। हाँ, अगर आप किसी फैमिली फंक्शन या पार्टी में जा रहीं है तो ठीक है। पर अगर यह सोच कर आप इस तरह के कपड़े लेतीं हैं तो आप खुद समझ जाईये की आप कितना पहनेंगी, यह आपके कबर्ड में बंद ही रह जाएंगें क्यूंकि आप हर फंक्शन में तो एक यही पहनकर नहीं जाएंगी। इसलिए सोच समझकर चुनाव करें और क्लासी और एलिगेंट कपड़ों का चुनाव करें।

3. स्टाइल के साथ न बह जाएँ

बहुत बार महिलाएं नये-नए ट्रेंडिंग कपड़ों का चुनाव करने का सोचती हैं, पर इस बीच वह यह भूल जाती हैं की उनके लिए ये कपड़े आरामदायक हैं भी या नहीं। अगर आप रोज़मर्रा की कपड़े ढूंढ रहीं है तो फुल स्लीव या लॉन्ग कुर्तों से थोड़ा बचकर ही रहे। क्यूंकि आगे चलकर पता चला की बर्तन धोते वक़्त आपके स्लीव्स आपको अनकम्फर्टेबल महसूस करा रहे हैं या लॉन्ग कुर्ती आपके घर झाड़ू का काम कर रहें हैं। इसलिए अगर इस तरह का ट्रेंड हो तो आप सोच-समझकर अपना अटायर चुनें।

ऐसे में क्या करें- वही कपड़े चुनें जो आरामदायक हो क्यूंकि असली ट्रेंड वही होता है जिसमें आपको आराम मिले और जिसको आप अच्छे से कैर्री कर सकें। इसलिए स्टाइल,ट्रेंड के फेर में न पड़ें।

4. मौसम के अनुसार करें कपड़ों का चुनाव

बहुत बार ऐसा होता है जब महिलाएं मौसम का ख्याल किये बिना कपड़ों का चुनाव कर लेती है, खासकर जब कभी सेल का वक़्त चल रहा हो तो। जैसे ठंड के वक़्त महिलाएं बहुत से जैकेट, शॉल, स्वेटर ले लेतीं हैं पर आगे चलकर वो मुश्किल से एक दो बार गर्म कपड़े पहनती हैं। इसके अलावा कभी-कभी महिलाएं बिना मौसम देखे कपड़े खरीद लेती हैं जैसे ठंड के दिनों में भी छोटी स्लीव्स के टॉप या ब्लाउज जिसे पहनना उनके लिए मुश्किल हो जाता है।

क्या करें- आप अच्छे से कपड़ों के फैब्रिक को छूकर देखें की ये गर्मी के दिनों में पेहेन सकते हैं या ठंड में। इसके अलावा पहनकर भी देख लें की कहीं आपको एलर्जी या शरीर में रैशेस तो नहीं हो रहे हैं । इसके अलावा मौसम के अनुकूल ही स्लीव्स का चयन करें।

5. न खर्चें ज़्यादा पैसे 

अक्सर शॉपिंग के वक़्त महिलाओं को अंदाजा नहीं होता की वो कितने की शॉपिंग कर रही हैं और खासकर के तब जब वें प्लास्टिक मनी यानी कार्ड पेमेंट कर रहीं हैं । महिलाएं धड़ल्ले से कार्ड का इस्तेमाल करती हैं और बहुत कुछ ले लेती हैं या कहें तो ज़रूरत से ज़्यादा ही कपड़े ले लेती हैं।

कैसे बचें – हमेशा शॉपिंग से पहले एक बजट तैयार कर लें, हालाँकि यह एक मुश्किल काम है पर नामुमकिन नहीं। यह आपके और आपके घर दोनों के लिए सही है इससे आपको कपडों का चयन करने में भी आसानी होगी और आपके घर का बजट भी नहीं बिगड़ेगा। क्यूंकि याद रखें की इंडिया में कम बजट में भी आपको काफी अच्छी क्वालिटी और काफी अच्छे डिज़ाइन के कपड़े मिल जाते हैं । बस ज़रूरत है तो आपको सही जगह का चुनाव करने की। कोशिश करें की उसी जगह जाएँ जहां आप पहले भी जा चुकीं हैं ऐसे में आपको डिस्काउंट भी मिल सकती है।

तो इस वीकेंड अगर आप शॉपिंग के लिए मन बना चुकीं हैं तो इन बातों को एक बार ज़रूर ध्यान में रख लें।

हैप्पी शॉपिंग !

Leave a Reply

%d bloggers like this: